islamic-sources

    1. home

    2. article

    3. आइए फ़ारसी सीखें-3

    आइए फ़ारसी सीखें-3

    Rate this post

    आपको अवश्य याद होगा कि मुहम्मद और रामीन का विश्व विद्यालय की की कैंटीन में परिचय हुआ। रामीन एक ईरानी छात्र है और इतिहास के विषय में पढ़ाई कर रहा है जबकि मुहम्मद एक विदेशी छात्र है जो ईरानी साहित्य की शिक्षा प्राप्त कर रहा है। वे संयोग से एक दूसरे से पुस्ताकालय में मिलते हैं और फिर एक दूसरे की कुशलता पूछने के बाद अपनी शिक्षा के बारे में बात करते हैं। आईये देखते हैं वे क्या बात करते हैं। सबसे पहले उनकी बातचीत में प्रयोग होने वाले कुछ शब्दों को ध्यान से पढ़ें।
    سلام – सलामمحمد – मुहम्मदآقاي رامين صمدي – श्री रामीन समदीاسم من – मेरा नामحال شما چطور است ؟ – आपका क्या हाल है?
    متشکرم – धन्यवाद
    حال شما خوب است ؟ – आप अच्छे है?خيلي ممنون – बहुत धन्यवादدانشجو – छात्र
    تاريخ – इतिहास
    دانشجوي تاريخ – इतिहास का छात्र
    شما – आपهستيد – हैं
    نه – नहींمن – मैं
    هستم – हूं
    من نيستم – नहीं हूं
    ادبیات – साहित्य
    دانشجوي ادبيات فارسي – फ़ारसी साहित्य का छात्र ادبيات فارسي – फ़ारसी साहित्य
    अब जबकि आपने इन शब्दों को पढ़ लिया तो आईये रामीन और मुहम्मद की वार्ता पढ़ते हैं
    …رامين : سلام محمد
    रामीन :सलाम मुहम्मद
    …محمد: سلام آقاي
    मुहम्मद : सलाम श्री …
    رامين : اسم من رامين است ، رامين صمدي
    रामीन : मेरा नाम रामीन है। रामीन समदी

    محمد : بله ، سلام آقاي رامين صمدي ، حال شما چطور است ؟
    मुहम्मद : जी हां, सलाम श्री रामीन समदी, आपका क्या हाल है ?
    رامين : متشکرم . حال شما خوب است ؟
    रामीन : धन्यवाद । आप अच्छे हैं?
    محمد : خيلي ممنون
    मुहम्मद :बहुत बहुत धन्यवाद ।
    رامين : شما دانشجوي تاريخ هستيد ؟
    रामीन : आप इतिहास के छात्र हैं ?
    محمد : نه . من دانشجوي تاريخ نيستم
    मुहम्मद : नहीं मैं इतिहास का छात्र नहीं हूं।
    رامين : شما دانشجوي ادبيات فارسي هستيد ؟
    रामीन : आप फ़ारसी साहित्य के छात्र हैं?
    محمد : بله . من دانشجوي ادبيات فارسي هستم . شما دانشجوي تاريخ هستيد ؟
    मुहम्मद : जी हां, मैं फ़ारसी साहित्य का छात्र हूं। आप इतिहास के छात्र हैं।
    رامين : بله . من دانشجوي تاريخ هستم
    रामीन : जी हां, मैं इतिहास का छात्र हूं ।
    आशा है कि मुहम्मद और रामीन की बातचीत को आपने ध्यानपूर्वक पढ़ा होगा।आइये एक बार पुनः यह बातचीत पढ़ते हैं।

    रामीन : सलाम मुहम्मद رامین : سلام محمد …محمد: سلام آقای मुहम्मद: सलाम श्री …
    رامين : اسم من رامين است ، رامين صمدي
    रामीन : मेरा नाम रामीन है। रामीन समदी

    محمد : بله ، سلام آقاي رامين صمدي ، حال شما چطور است ؟
    मुहम्मद : जी हां, सलाम श्री रामीन समदी, आपका क्या हाल है ?

    رامين : متشکرم . حال شما خوب است ؟
    रामीन : धन्यवाद । आप अच्छे हैं?
    محمد : خيلي ممنون
    मुहम्मद : बहुत बहुत धन्यवाद ।
    رامين : شما دانشجوي تاريخ هستيد ؟
    रामीन : आप इतिहास के छात्र हैं ?
    محمد : نه ، من دانشجوي تاريخ نيستم
    मुहम्मद : नहीं मैं इतिहास का छात्र नहीं हूं।
    رامين : شما دانشجوي ادبيات فارسي هستيد ؟
    रामीन : आप फ़ारसी साहित्य के छात्र हैं?
    محمد : بله . من دانشجوي ادبيات فارسي هستم . شما دانشجوي تاريخ هستيد ؟
    मुहम्मद : जी हां, मैं फ़ारसी साहित्य का छात्र हूं। आप इतिहास के छात्र हैं।
    رامين : بله . من دانشجوي تاريخ هستم
    रामीन : जी हां, मैं इतिहास का छात्र हूं ।
    ध्यान दिया आपने? अब मुहम्मद और रामीन एक दूसरे को पहचानते हैं। आप भी धीरे-2 उनसे अधिक अवगत होंगे और उनकी बातों को सुनते हुए फ़ारसी भी सीखते जाएंगे। अब तक आपने जो सबसे महत्त्वपूर्ण वाक्य सीखे वे इस प्रकार हैं। कृपया इन वाक्यों को ध्यानपूर्वक पढ़िये।

    سلام _ सलाम
    حال شما چطور است ؟ _आपका क्या हाल है ?
    متشکرم . خيلي ممنون _आप का आभारी हूं बहुत बहुत धन्यवाद
    شما ايراني هستيد ؟ _ आप ईरानी हैं ?
    بله . من ايراني هستم _ जी मैं ईरानी हूं ?
    اسم شما چيست ؟ _ आपका नाम क्या है ?
    اسم من محمد است _ मेरा नाम मुहम्मद है
    شما دانشجوي ادبيات فارسي هستيد ؟ _ आप फ़ारसी साहित्य के छात्र है़
    نه من دانشجوي ادبيات فارسي نيستم . من دانشجوي تاريخ هستم _ जी नहीं मैं फ़ारसी साहित्य का छात्र नहीं हूं। मैं इतिहास का छात्र हूं