islamic-sources

    1. home

    2. article

    3. आइए फ़ारसी सीखें-14

    आइए फ़ारसी सीखें-14

    Rate this post

    मुहम्मद अपने किसी मित्र से मिलने तेहरान में स्थित एक दूतावास गया है। उन्होंने कुछ समय तक आपस में वार्ता की। बाद में श्री कमाल भी उनमें बढ़ गए। कमाल एक युवा हैं जो धाराप्रवाह फ़ार्सी बोलता है। वह लेबनान वासी हैं। मुहम्मद और कमाल आपस में विभिन्न विषयों पर वार्ता करते हैं। मुहम्मद बताता है कि वह छात्र है और ईरान में शिक्षा प्राप्त कर रहा है। वह कमाल से ईरान में उसके दूतावास के बारे में प्रश्न पूछता है। कमाल इस्लामी गणतंत्र ईरान के रेडियो एवं टेलिविज़न केन्द्र में कार्यरत है। वह रेडियो एवं टेलिविज़न केन्द्र के विदेश सेवा विभाग में अनुवादक और उद्घोषक के रूप में काम करता है। यदि आप मुहम्मद और कमाल के बीच अरबी रेडियो के बारे में हुई वार्ता सुनना चाहते हैं तो पहले इन शब्दों को ध्यान पूर्वक सुनिए। कौन सा काम چه کاری आप आए या आप पधारे شما آمدید सैर या भ्रमण تفریح पर्यटन या भ्रमण گردش काम कार्य کار मैं जीवन गुज़ारता हूं من زندگی می کنم मैं नहीं आया हूं من نیامده ام कहां کجا तुम काम करते हो شما کار می کنید दूतावास سفارت लेबनान (देश का नाम) لبنان कर्मचारी کارمند रेडियो एवं टेलिविज़न केन्द्र سازمان صدا و سیما मैं काम करता हूं من کار می کنم अनुवादक مترجم उद्धोषक گوینده रेडियो رادیو संभवत: احتمالا” से अधिक بیش از भाषा زبان विभिन्न مختلف वास्तव में “واقعا रेडियो कार्यक्रम برنامه رادیویی प्रसारित होता है پخش می شود प्रसारण بخش महत्वपूर्ण مهم विदेशी सेवा برونمرزی मौजूद है وجود دارد श्रोता شنونده श्रोताओ شنوندگان ईरान से बाहर خارج از ایران वे तैयार करते हैं या उत्पादित करते हैं। آنها تولید می کنند दर्शक بینندگان क्षेत्र, संसार نقاط विश्व, संसार دنیا रोचक جالب वे प्रसारित करते हैं آنها پخش می کنند रूचि या लगाव علاقه लगवा या रूचि रखने वाला علاقمند संबोधक, श्रोता या दर्शक مخاطبان टेलिविज़न تلویزیون पत्र نامه ई मेल ایمیل अधिक زیاد वे प्राप्त करते हैं। آنها دریافت می کنند अब मुहम्मद और कमाल की वार्ता को साथ में सुनते हैं। मुहम्मद: तुम किस लिए ईरान आए हो, घूमने या काम के लिए? محمد: شما برای چه کاری به ایران آمدید؟ برای تفریح و گردش یا کار؟ कमाल: नहीं, मैं ईरान में जीवन व्यतीत करता हूं। ईरान में घुमने के लिए नहीं आया हूं। کمال: نه . من در ایران زندگی می کنم ، برای تفریح به ایران نیامده ام मुहम्मद : क्या लेबनान के दूतावास में काम करते हो? محمد: کجا کار می کنید ؟ در سفارت لبنان कमाल : नहीं मैं दूतावास का कर्मचारी नहीं हूं। मैं रेडियो एवं टेलिविज़न केन्द्र में काम करता हूं। کمال : نه . من کارمند سفارت نیستم. من در سازمان صدا و سیما کار می کنم . مترجم و گوینده رادیو هستم मुहम्मद : संभवत : तुम अरबी रेडियो के उद्धोषक हो। محمد: پس احتمالا” گوینده رادیو عربی هستید कमाल : हां, ईरान में ३० से अधिक भाषाओं में रेडियो कार्यक्रम प्रसारित होते हैं। کمال : بله . در ایران رادیوهایی به زبانهای مختلف وجود دارد. بیش از 30 زبان मुहम्मद: वास्तव में? क्या इन सभी भाषाओं में रेडियो कार्यक्रम प्रस्तुत किये जाते हैं? محمد : واقعا”؟ یعنی برای همه این زبانها، برنامه رادیویی پخش می شود؟ कमाल : हां, रंडियो एवं टेलिविज़न केन्द्र में विदेशी भाषाओं का एक महत्वपूर्ण विभाग हैं। کمال: بله. در صدا و سیما یک بخش مهم به اسم برونمرزی وجود دارد मुहम्मद : यह विभाग ईरान से बाहर के श्रोताओंके लिए कार्यक्रम तैयार करता है। محمد: آنها برای شنوندگان خارج از ایران برنامه تولید می کنند

    कमाल : हां, विदेश विभाग से विश्व के विभिन्न क्षेत्रों के श्रोताओं और दर्शकों के लिए रोचक कार्यक्रम प्रसारित किये जाते हैं।

    मुहम्मदः क्या विदेशी सेवा से प्रसारित किये जाने वाले कार्यक्रम पसंद किये जाते हैं?

    कमालः हां, विदेश विभाग के रेडियो और टेलिविज़न , भारी संख्या में अपने श्रोताओं और दर्शकों से पत्र तथा ई मेल प्राप्त करते हैं।

    کمال : بله. در برون مرزی برای شنوندگان و بینندگان نقاط مختلف دنیا، برنامه های جالبی پخش می کنند

    محمد: آیا برنامه های برونمرزی مورد علاقه مخاطبان است؟

     

    کمال : بله. رادیوها و تلویزیونهای برون مرزی ، نامه ها و ایمیل های زیادی را از مخاطبان علاقمند دریافت می کنند

    जैसाकि आपने सुना मुहम्मद और कमाल, ईरान के रेडियो और टेलिविज़न केन्द्र के संबन्ध में वार्ता कर रहे थे। इस केन्द्र में कई रेडियो स्टेशन और टेलिविज़न चैनेल हैं। ईरान में आठ टीवी चैनेल पाए जाते हैं जो विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम तैयार करते हैं। हर प्रांत का अपना एक प्रांतीय चैनेल होता है जो विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम प्रस्तुत करने के अतिरिक्त उस प्रांत से संबन्धित घटनाएं भी प्रस्तुत करता है। स्थानीय और राष्ट्रीय रेडियो के श्रोताओं की संख्या बहुत है। किंतु विदेश सेवा विभाग में कुछ रेडियो स्टेशन और टीवी चैनेल, विश्व के अधिकांश महत्वपूर्ण क्षेत्रों के लिए विभिन्न भाषाओं में अपने कार्यक्रम प्रस्तुत करते हैं। इनमें से कुछ तो दिन में केवल कुछ घण्टों के लिए अपना प्रसारण करते हैं जबकि अरबी टीवी चैनेल जैसे कुछ चैनेल २४ घण्टे के लिए कार्यक्रम प्रसारित करते हैं। एसे चैनेलों के विश्व भर में बहुत से दर्शक हैं। यह चैनेल अपने दर्शकों के लिए बहुत ही रोचक और रंगारंग कार्यक्रम तैयार करते हैं। इस समय आप भी हमारी विदेशी सेवा के श्रोता हैं। हमें इस बात पर प्रसन्नता है कि आपने सुनने के लिए इस्लामी गणतंत्र ईरान की आवाज़ का चयन किया है। यदि आप मुहम्मद और कमाल की वार्ता को आगे भी सुनना चाहते हैं तो हमारे अगले कार्यक्रम को सुनना न भुलिएगा।