islamic-sources

    1. home

    2. article

    3. आइये फ़ारसी सीखे – 75

    आइये फ़ारसी सीखे – 75

    आइये फ़ारसी सीखे – 75
    Rate this post

    कार्यक्रम में हवाई मार्गों तथा ईरान में उड़ान की स्थिति की चर्चा करेंगे। वर्ष १९२३ में ईरानी युवाओं का एक गुट विमान चलाने का प्रशिक्षण लेने के लिए रूस और फ़्रांस गया था।
    ईरान मे जहाज़ के पहले कारख़ाने ने १९३५ में अपना कार्य आरंभ किया। उसके बाद वर्ष १९३८ में आधिकारिक रूप से तेहरान में मेहराबाद हवाई अड्डे का उद्घाटन किया गया।

    मेहराबाद हवाई अड्डे के उद्घाटन से पूर्व “किलए मुर्ग़ी” नामक क्षेत्र मे हवाई जहाज़ उतरा करते थे।

    उस समय से अबतक ईरान में हवाई अडडे के निर्माण और विमान चलाने के प्रशिक्षण के संबन्ध में बहुत कार्य किया जा चुका है। ईरान के बहुत से नगरों में डोमेस्टिक और इन्टरनैश्नल हवाई अडडे बनाए गए हैं।

    इस समय लगभग ७० मिलयन यात्रियों को प्रतिवर्ष ईरान के हवाई अडडों से एक स्थान से दूसरे स्थान स्थानांतरित किया जाता हैं। मुहम्मद और उसका दोस्त सईद मेहराबाद हवाई अड्डे गए हैं। सईद किरमान जाना चाहता है और मुहम्मद हवाई अड्डे तक सईद के साथ गया है।
    वह हवाई अडडे के पूछताछ विभाग में श्री हमीद मुज़फ़्फ़री से अवगत होता है। श्री हमीद मुज़्ज़फ़री को ईरान में हवाई उड़ान के इतिहास का गहराई से ज्ञान है तथा हवाई अडडों की स्थिति से भी वे भलि भांति परिचित हैं। वे मुहम्मद से इस बारे में वार्ता करते हैं।

    فرودگاه
    हवाई अड्डा
    مهرآباد
    मेहराबाद

    امام خمینی
    इमाम ख़ुमैनी

    قدیمی
    पुराना प्राचीन
    قدیمی ترین
    सबसे प्राचीन

    سال 1938 م. ( 1317 ش. )
    वर्ष १९३८ ईसवी
    آن افتتاح شد
    उद्दाटन हूआ

    سال ها قبل
    वर्षों पूर्व
    هواپیما
    विमान

    پرواز
    उड़ान
    آنها پرواز می کردند
    वे उड़ते थे

    کجا
    कहां
    آنها می نشستند
    वे बैठते थे उतर्ते थे

    صاف
    सीधा
    هموار
    समतल

    اطراف

    इर्दगिर्द
    آنها فرود می آمدند
    वे नीचे आते थे, वे उतरते थे

    کی
    कब
    آن انجام شد
    वह काम हुआ

    سال 1923
    वर्ष १९२३
    گروهی از
    एक गुट

    جوانان
    सुपर(बहुवचन)
    آموزش

    सीखना प्रशिक्षण
    خلبان
    विमान चलक
    خلبانی
    विमान चलाना

    روسیه
    रुस
    فرانسه
    फ़्रांस

    دو سال
    दो वर्ष
    آنها بازگشتند
    वे लोटे

    از آن پس
    उसके बाद से
    آن آغاز شد
    वे लौटे

    درخصوص
    के संदर्भ में
    ساخت
    बनाया, निर्माण

    قطعات
    टुकड़े कलपुज़े
    کارخانه
    कारख़ाना

    آن وجود دارد
    वह पाया जाता है
    آن وجود داشته است
    उसका अस्तित्व रहा है

    صنعت
    उद्योग
    نسبتا ً
    अपेक्षाकृत

    قدیمی
    प्राचीन
    سال 1935
    वर्ष १९३५

    جالب است

    रोचक है
    شهر
    नगर

    بین المللی
    अन्तर्राष्ट्रीय
    آن دارد
    वह रखता है

    چند سال پیش
    कुछ वर्षों पूर्व
    آن افتتاح شد
    उसका उद्वाटन हुआ

    جدید
    नया या आधुनिक
    چهل کیلومتر
    ४० किलोमीटर

    جنوب
    दक्षिण
    آن واقع شده است
    वह स्थित है

    اکثر
    अधिकतर
    خارجی
    विदेशी

    آن صورت می گیرد
    वह होता है
    محمد – فرودگاه مهرآباد قدیمی ترین فرودگاه ایران است ؟
    मुहम्मदः मेहराबाद हवाई अड्डा ईरान का सबसे पुराना हवाई अड्डा है।

    حمید – فرودگاه مهرآباد در سال 1938( 1317 ش . ) افتتاح شد ، اما از سالها قبل از آن هم هواپیماها در ایران پرواز می کردند .
    हमदीः मेहराबाद हवाई अड्डे का उद्घाटन आधिकारिक रूप से तो वर्ष १९३८ में हुआ था किंतु इससे भी वर्षों पहले ईरान में हवाई जहाज़ उड़ा करते थे।

    محمد – این هواپیماها کجا می نشستند ؟
    मुहम्मदः यह हवाई जहाज़ कहां उतरते थे?

    حمید – هواپیماها در زمین صاف و همواری در اطراف تهران فرود می آمدند .
    हमीदः हवाई जहाज़ तेहरान के निकट एक खुले व समतल मैंदान में उतरते थे।

    محمد – اولین پرواز ایرانیان کی انجام شد ؟
    मुहम्मदः ईरानियों की पहली उड़ान कब हुई?

    حمید – در سال 1923 گروهی از جوانان ایرانی برای آموزش خلبانی به روسیه و فرانسه رفتند و دو سال بعد به ایران بازگشتند . از آن پس ، پرواز خلبانان ایرانی آغاز شد .
    हमीदः वर्ष १९२३ में ईरानी युवाओं का एक गुट विमान चलाने का प्रशिक्षण लेने रूस और फ्रांस गया और दो वर्षों के बाद ईरान वापस आया। उसके बाद से ईरानी विमान चालकों की उड़ान आरंभ हुई।

    محمد – آیا درخصوص ساخت هواپیما و قطعات آن ، کارخانه ای در ایران وجود دارد ؟
    मुहम्मदः क्या ईरान में विमान और विमान के कलपुर्जे बनाने का कारख़ाना है?

    حمید – بله . این صنعت در ایران نسبتاً قدیمی است و از سال 1935 وجود داشته
    است .
    हमीदः हां। यह उद्धोग ईरान में अपेक्षाकृत पुराना है और वर्ष १९३५ से यह मौजूद है।
    محمد – جالب است که شهر تهران دو فرودگاه بین المللی دارد . فرودگاه مهرآباد و فرودگاه امام خمینی .
    मुहम्मदः रोचक बात है कि तेहरान में दो अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अडडे हैं। मेहराबाद और इमाम ख़ुमैनी हवाई अड्डा।

    حمید – بله . فرودگاه بین المللی امام خمینی چند سال پیش افتتاح شد و فرودگاه جدیدی است .
    हमीदः हां। अन्तर्राष्ट्रीय इमाम ख़ुमैनी हवाई अड्डे का कुछ वर्ष पहले ही उद्घाटन हुआ और यह नया हवाई अडडा है।

    محمد – فرودگاه امام خمینی کجاست ؟
    मुहम्मदः इमाम खुमैनी हवाई अडडा कहां पर है?

    حمید – این فرودگاه در چهل کیلومتری جنوب تهران واقع شده است و اکثر پروازهای خارجی از آن صورت می گیرد .
    हमीदः इमाम खुमैनी हवाई अडडा, तेहरान से ४० किलोमीटर दक्षिण में स्थित है और अधिक्तर विदेशी उड़ाने वहीं से संचालित होती हैं।

    जैसा कि श्री हमीद मुज़फ़्फ़री ने कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय इमाम ख़ुमैनी हवाई अडडा, ईरान का एक नया हवाई अड्डा है जिसका आधिकारिक उद्घाटन वर्ष २००६ में हुआ था।
    मेहराबाद हवाई अड्डा तेहरान के पश्चिम में स्थित है जबकि अन्तर्राष्ट्रीय इमाम ख़ुमैनी हवाई अडडा, तेहरान के दक्षिण में ४० किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस हवाई अड्डे में प्रतिवर्ष पैंसठ लाख लोगों और एक लाख बीस हज़ार टन भार को स्थानांतरित करने की क्षमता पाई जाती है।
    ईरान के दूसरे नगरों में भी हवाई अड्डे मौजूद हैं और प्रांत की अधिकांश राजधानियों में अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे मौजूद है।
    फ़ार्स प्रांत के एक नगर लार में भी अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा पाया जाता है जबकि यह फ़ार्स प्रांत की राजधानी नहीं है।
    इस हवाई अड्डे के माध्यम से देश के भीतर और दुबई, क़तर तथा फ़ार्स की खाड़ी के दक्षिण में स्थित देशों के लिए उड़ाने होती है।

    http://hindi.irib.ir