islamic-sources

    1. home

    2. article

    3. आलम से ग़ैरे आलम कि तरफ़ पलटना

    आलम से ग़ैरे आलम कि तरफ़ पलटना

    Rate this post

    सवालः अगर आलम (सबसे ज़्यादा जानने वाला) के फ़त्वे ज़माने के मुताबिक़ न हों या उन पर अमल करना सख़्त हो तो क्या ग़ैरे आलम से सम्पर्क किया जा सकता है? जवाबः सिर्फ़ इस गुमान पर कि आलम का फ़त्वा माह़ौल और ह़ालात के अनुसार नहीं या उसके फ़त्वे पर अमल करना सख़्त है तो आलम से दुसरे मुज्तहिद की तरफ़ उदूल (पलट्ना) जाएज़ नहीं है।