islamic-sources

    1. home

    2. article

    3. इमामतः प्रथम व शेष वही की निर्देश है

    इमामतः प्रथम व शेष वही की निर्देश है

    इमामतः प्रथम व शेष वही की निर्देश है
    Rate this post

    पैग़म्बरे अकरम (स.) इस्लाम की तब्लीग़ के लिए पहली मज़लिस में रसूले अकरम (स.)पहली मज़लिज़ के दर्मियान आपने जान्शीन का परिचय कराया था, और इस्लाम की आख़री पैठक में समस्त प्रकार मूसल्मानों के दर्मियान ग़दीरे ख़ुम के मैदान में अपना निर्दष्ट ख़लीफ़ा को बयान फरमायाः और अल्लाह की तरफ़ से मूकम्मल दीन को सही पद्धति से स्पष्ट फरमायाः इन दो घटनायों में पैग़म्बरे अकरम (स.) कई बार व विभिन्न मूनासिबत से हज़रत अली (अ) को इमामत व जान्शीन को लोगों तक पहुँचा दिया ताकि किसी प्रकार का शक व अबकाश न रहे।

    जैसा कि अहले सून्नत मूतावतिर रिवाएत के माध्यम इमाम मासूम (अ) के सम्पर्क में हज़रत रसूल अकरम (सः) से हदीस नक़्ल हुई हैं कि प्रत्येक इमाम मासूम (अ) अल्लाह की तरफ से इमाम के स्थान पर मन्सूब है। पैग़म्बरे गिरामी (स.) कभी कद्र उन समस्त इमामों को अपनी ईतरत कहकर पूकारा या कभी उन इमामों को नामों से याद करके फरमायाः ( हमारे बाद बारह इमाम होगें मिसले बनी ईस्राईल के निक़ाब के गिनती के मूताबिक़ या हाव्वारीयून या हज़रत ईसा (अ) उसके चारों तरफ़ के विशेष लोग जैसे. फिर फरमायाः ( हमारे बाद बारह इमाम होगें पहला हज़रत अली (अ) व आख़िर हज़रत क़ायम (अ) अल्लाह इर्शाद फरमाया हैः कि हज़रत क़ायम (अ) के माध्यम इस्लाम पृथ्वी की पूप व पश्चीम को प्रसार करेगें)) हज़रत सलमान फार्सि (अ) से एक रिवाएत बर्णना हूआ हैः फरमाते है मै पैग़म्बरे अकरम (स.) की पवित्र ख़िदमत में उपस्थित हूआ, देख़ा हुसैन इब्ने अली हज़रत रसूल (स.) के पाये मुबारक पर बैठे है, पैग़म्बरे ऊनके आँख़ और दातों को चूम रहे है और फरमा रहे हैः

    ((तुम महा आक़ा हो व महा आक़ा की औलाद हो, तुम इमाम हो और इमाम के (अ) औलाद हो, तुमहारे पिता इमाम व भाई भी इमाम, तुम हुज्जते ख़ुदा हो, और अल्लाह की हूज्जत के बेटा और नौ इमामों के पिता जो सबके सब अल्लाह की तरफ़ से मन्सूब होगें और नबेम इमाम हज़रत क़ायम (अ) होगें।

     

    तर्तीब के साथ अहले बैत (अ) के पवित्र नाम

    1- हज़रत अमिरुल मोमेंनीन अली इब्ने अबि तालिब (अ)

    2- इमाम हसने मुज़्तबा (अ)

    3- इमाम हुसैन शहीदे कर्बला (अ)

    4- इमाम ज़ैनुल अबेदीन (अ)

    5- इमाम बाक़िर हज़रत मुहम्मद इब्ने अली (अ)

    6- इमाम सादिक़ हज़रत जाफर इब्ने मुहम्मद (अ)

    7- इमाम काज़िम हज़रत मूसा इब्ने जफ़र (अ)

    8- इमाम रिज़ा हज़रत अली इब्ने मूसा (अ)

    9- इमाम जवाद हज़रत मुहम्मद इब्ने अली (अ)

    10- इमाम हादी हज़रत अली इब्ने मुहम्मद (अ)

    11- इमाम असकरी हज़रत हसने इब्ने अली (अ)

    12- इमामें ज़माना हज़रत महदी हुज्जत इब्नुल हसने (अज्जलल लाहू तअला फरजहुश्शरीफ़)