islamic-sources

    1. home

    2. article

    3. बेनमाज़ी से शादी

    बेनमाज़ी से शादी

    Rate this post

    सवालः बहुत से लोग अम्रबिल मारूफ़ (नेकियों का ह़ुक्म देना) व नहीं अनिल मुनकर (बुराई से रोकना)

    के कारण ऐसी जगहों पर जाते हैं जहाँ बेपर्दा औरतें मौजूद रहती हैं तो क्या उन लोगों के लिए बेपर्दा औरतों की तरफ़ देखना जाएज़ है?
    जवाबः पहली निगाह (देखना) अगर बिना इरादे व निश्चय के हो तो कोई ह़रज नहीं है

    लेकिन जानबूझ कर चेहरे और गट्टे तक हाथों के अलावा देखना जाएज़ नहीं है चाहे अम्रबिल मारूफ़ व नही अनिल मुनकर के इरादे से क्यों न हो।