islamic-sources

    1. home

    2. article

    3. मुह़ल्ले की मस्जिद में नमाज़

    मुह़ल्ले की मस्जिद में नमाज़

    Rate this post

    सलावः इस बात को ध्यान में रखते हुए कि इंसान के लिए मुस्तह़ेब है कि अपने मुह़ल्ले की मस्जिद में नमाज़ पढ़े तो क्या नमाज़े जमाअत में शामिल होने के लिए अपने मुहल्ले की मस्जिद को छोड़ कर शहर की जामा मस्जिद जा सकता है?
    जवाबः अपने मुहल्ले की मस्जिद को छोड़ कर किसी दूसरी मस्जिद या शहर की जामा मस्जिद में नमाज़े जमाअत में शामिल होने के लिए जाने में कोई मुश्किल नहीं है।