islamic-sources

    1. home

    2. article

    3. 101 सूरए अल क़ारिआ

    101 सूरए अल क़ारिआ

    101 सूरए अल क़ारिआ
    4 (80%) 1 vote[s]

    101 सूरए अल क़ारिआ का अनुवाद

    शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है।

    1- खड़ खड़ाने वाली।

    2- और कैसी खड़खड़ाने वाली।

    3- और तुम्हें क्या जानों वह खड़ खड़ाने वाली क्या है।

    4- जिस दिन लोग बिखरे हुए पतंगों(उड़ने वाले कीड़े) की तरह हो जायेंगे।

    5- और पहाड़ धुनी हुई रूई की तरह उड़ेंगे।

    6- उस दिन जिसकी नेकियों का पल्ला भारी होगा।

    7- वह पसंदीदा आराम मे होगा।

    8- और जिसकी नेकियों का पल्ला हल्का होगा।

    9- उसका ठिकाना हावियह में होगा।

    10- और तुम क्या जानों कि हावियह क्या है।

    11- यह दहकती हुई आग है।