islamic-sources

    1. home

    2. article

    3. 103 सूरए अस्र

    103 सूरए अस्र

    103 सूरए अस्र
    4 (80%) 1 vote[s]

    103 सूरए अस्र का अनुवाद

    शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है।

    1- समय की सौगंध।

    2- पूरी मानवता घाटे मे है।

    3- उन लोगों को छोड़ कर जिन्होंने ईमान लाने के बाद नेक काम किये और आपस मे एक दूसरे को हक़ और सब्र की नसीहत की।