islamic-sources

    1. home

    2. article

    3. 112 सूरए इखलास

    112 सूरए इखलास

    Rate this post

    112 सूरए इखलास का अनुवाद

    शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है।

    1-(ऐ रसूल) कह दीजिए कि वह अल्लाह एक है।

    2-अल्लाह बेनियाज़ है। अर्थात अल्लाह को किसी चीज़ की आवश्यक्ता नही है।

    3-न वह किसी की संतान है और न ही उसके कोई संतान है।

    4-और उसका कोई हमसर भी नही है।