islamic-sources

    1. home

    2. article

    3. वह चीज़े जो रोज़े को बातिल करती हैं

    वह चीज़े जो रोज़े को बातिल करती हैं

    Rate this post

    (1581) नीचे लिखीं चन्द चीज़ें रोज़े को बातिल कर देती हैं

    (1) खाना और पीना।

    (2) जिमाअ (सम्भोग)

    (3) इस्तिमना- यानी इंसान अपने आप या किसी दूसरे के साथ जिमाअ के अलावा कोई ऐसा काम करे जिस के नतीजे में मनी(वीर्य) निकल जाये ।

    (4) अल्लाह ताआला,पैग़म्बर (स0) और आइम्मा-ए-ताहेरीन(अ0) से कोई झूटी बात मंसूब करना।

    (5) गर्द व ग़ुबार हलक़ तक पहुँचाना।

    (6) मशहूर क़ोल की बिना पर पूरा सर पानी में डुबोना।

    (7) अज़ान तक जनाबत, हैज़ और निफ़ास की हालत में रहना।

    (8) किसी सय्याल(द्रव) चीज़ से हुक़ना (इनेमा) करना।

    (9) उल्टी करना। इन मुबतेलात के तफ़सीली अहकाम आइन्दा मसाइल में ब्यान किये जायेंगें।