islamic-sources

    1. home

    2. article

    3. 99- सूरए ज़िलज़ाल

    99- सूरए ज़िलज़ाल

    Rate this post

    99- सूरए ज़िलज़ाल का अनुवाद

    शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है।

    1- जब ज़मीन ज़ोरदार ज़लज़ले में आजायेगी.

    2- और वह सारे ख़ज़ाने निकाल डालेगी।

    3- और इंसान कहेगा कि इसे क्या हो गया।

    4- उस दिन वह अपनी खबरें ब्यान करेगी।

    5- कि तुम्हारे पालने वाले ने उस पर वही की है।

    6- उस दिन तमाम इंसान गिरोह गिरोह क़ब्रों से निकलेंगे ताकि अपने आमाल को देख सकें।

    7- फिर जिसने ज़र्रा बराबर नेकी की है वह उसे देखेगा।

    8- और जिसने ज़र्रा बराबर बुराई की है वह उसे देखेगा।