islamic-sources

  • Rate this post

    प्रस्तावना

    Rate this post लेखक: आयतुल्लाह हुसैन अनसारियान   किताब का नाम: शरहे दुआए कुमैल   यह ग़रीब 11 वर्ष की आयु मे अपने पिता के साथ रमज़ान के पवित्र महीने की रात्रियो मे तेहरान की प्रसिध्द धार्मिक बैठको मे भाग लिया करता था, उस बैठक मे स्वर्गीय आयतुल्लाह हाज सैय्यद मुहम्मद मैहदी लालेज़ारी के ज़ो आलिमे बा अमल […]

  • Rate this post

    प्रकाशक का कथन

    Rate this post लेखक: आयतुल्लाह हुसैन अनसारियान   किताब का नाम: शरहे दुआए कुमैल   मनुष्य का परमेशवर से बात करना, प्राणी के निर्माता और आदमी के बीच का रिश्ता प्रार्थनाकहलाता है। महान मनीषियों ने प्रार्थना को व्यवहारिक उपाधि मे एकता (तौहीद) बताया है, इसलिए अनबियाए एज़ाम एवम अहलेबैत अलैहेमुस्सलाम एकता (तौहीद) का बहुत ज़्यादा महत्व बयान करते थे। वारिद शुदा प्रार्थनाओ मे प्रार्थनाए कुमैल (दुआए कुमैल) के उच्च […]

  • Rate this post

    निर्देशिता बेमिस्ल वरदान (नेमत) -2

    Rate this post पुस्तकः कुमैल की प्रार्थना का वर्णन लेखकः आयतुल्ला अनसारीयान   यदि मनुष्य ईश्वर की भौतिक एंव आध्यात्मिक वरदानो को देखे तथा उनपर सोच विचार करे तो उसे पता चलेगा कि ईश्वर की कृपा तथा उसके विशेष एंव सार्वजनिक फ़ैज़ ने उस पर चारो ओर से छाया कर रखा है और परमात्मा की […]

  • Rate this post

    निर्देशिता बेमिस्ल वरदान (नेमत)-1

    Rate this post पुस्तकः कुमैल की प्रार्थना का वर्णन लेखकः आयतुल्ला अनसारीयान   जब ईश्वर की दया एंव कृपा ने यह निश्चित कर लिया कि मनुष्य को कुच्छ दिनो हेतु संसार मे भेजे, और उसे सूर्य चंद्रमा तथा धरती एंव आकाश जैसे विभिन्न वरदान प्रदान किए, ताकि उनसे लाभ उठाए और सब्ज़ी, अनाज तथा फल […]

  • Rate this post

    कुमैल की प्रार्थना की प्रमाणकता – 2

    Rate this post पुस्तक का नामः दुआए कुमैल का वर्णन लेखकः आयतुल्लाह अनसारीयान इस से पहले वाले लेख मे हमने बताया था कि कुमैल ने अमीरुल मोमेनीन को सजदे मे इस दुआ को पढते हुए देखा था इस लेख मे जिस बात का वर्णन अमीरुल मोमेनीन ने कुमैल को किया है उसको आपके लिए प्रस्तुत […]

  • Rate this post

    दुआए कुमैल का वर्णन -1

    Rate this post पुस्तक का नामः दुआए कुमैल का वर्णन लेखकः आयतुल्लाह अनसारीयान   بِسمِ أللہ ألرَّحمٰنِ ألرَّحِیم أَللَّھُمَّ إِنِّی أَسأَلُکَ بِرَحمَتِکَ أَلَّتِی وَسِعَت کُلَّ شَیئ وَ بِقُوَّتِکَ أَلَّتِی قَھَرتَ بِھَا کُلَّ شَیئ وَ خَضَعَ لَھَا کُلُّ شَیئ وَ ذَلَّ لَھَا کُلُّ شَیئ وَ بِجَبَرُوتِکَ أَلَّتِی غَلَبتَ بِھَا کُلَّ شَیئ وَ بِعِزَّتِکَ ألَّیِی لَا یَقُومُ […]

  • Rate this post

    बिस्मिल्लाह से आऱम्भ करने का कारण -1

    Rate this post पुस्तक का नामः दुआए कुमैल का वर्णन लेखकः आयतुल्लाह अनसारीयान بِسمِ أللہ ألرَّحمٰنِ ألرَّحِیم बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्राहीम उस ईश्वर के नाम से जिसकी कृपा का अनुमान नही तथा दया सदैव है बिस्मिल्लाह से आऱम्भ करने का कारण प्रकाशी एवं अनंत सोत्र (बिस्मिल्ला) के साथ कुमैल की प्रार्थना का आरम्भ निम्न लिखित दलीलो के कारण […]

  • Rate this post

    फिलिस्तीन इस्लामी जगत की एक बड़ी समस्या

    Rate this post मध्यपूर्व में तेज़ी से होने वाले परिवर्तन और सीरिया में संकट और उसे हवा देने हेतु पश्चिमी एवं क्षेत्र में उनकी घटक सरकारों के प्रयास,अतिग्रहित फिलिस्तीन के भुला देने का कारण बने हैं जबकि फिलिस्तीन इस्लामी जगत की सबसे बड़ी व महत्वपूर्ण समस्या है। यह एसी स्थिति में है जब ६५ वर्षों […]

  • Rate this post

    स्वर्गीय इमाम खुमैनी

    Rate this post आज स्वर्गीय इमाम खुमैनी की बरसी है। इस्लामी गणतंत्र ईरान के संस्थापक इमाम ख़ुमैनी का स्वर्गवास वर्ष १९८९ में हुआ था।  संयोग से आज ही कल इस्लाम के महापुरूष हज़रत अली अलैहिस्सलाम का भी शुभ जन्म दिवस है। इमाम ख़ुमैनी जैसे महापुरूष की बरसी पर हम उनकी दृष्टि से हज़रत अली अलैहिस्सलाम […]

  • Rate this post

    इमाम ख़ुमैनी के जीवन में पैग़म्बरे इस्लाम की विशेषताओं की झलक

    Rate this post चौदह खुरदाद वर्ष 1368 हिजरी शम्सी अर्थात चार जून वर्ष 1989 ईसवी को विश्व एक ऐसे महापुरूष से हाथ धो बैठा जिसने अपने चरित्र, व्यवहार,अदम्य साहस, समझबूझ और ईश्वर पर पूर्ण विश्वास के साथ संसार के सभी साम्राज्यवादियों विशेषकर अत्याचारी व अपराधी अमरीकी सरकार का डटकर मुक़ाबला किया और इस्लामी प्रतिरोध की पताका पूरी धरती पर फहराई। इमाम खुमैनी […]

  • Rate this post

    इमाम ख़ुमैनी की बर्सी पर वरिष्ठ नेता का अति महत्वपूर्ण भाषण

    Rate this post इस्लामी क्रांति के महान नेता और इस्लामी गणतंत्र ईरान के संस्थापक इमाम खुमैनी की २४वीं बरसी पर वरिष्ठ नेता आयतुल्लाहिल उज़मा सैयद अली ख़ामेनई के अति महत्वपूर्ण भाषण के कुछ भाग। हम ईश्वर के आभारी हैं कि उसने हमें एक बार पुनः इस बात का अवसर दिया कि हम ऐसी तिथि पर […]

  • Rate this post

    इस्लामी जागरुकता सम्मेलन में इस्लामी क्रान्ति के वरिष्ठ नेता का भाषण

    Rate this post بسم اللہ الرحمن الرحیم الحمد للہ رب العالمین و الصلاۃ و السلام علی سیدنا محمد المصطفی و آلہ الاطیبین و صحبہ المنتجبین و من تبعھم باحسان الی یوم الدین आप सम्मानीय अतिथियों का स्वागत करता हूं और महान व कृपालु ईश्वर की सेवा में प्रार्थना करता हूं कि इस सामूहिक प्रयास में […]

  • Rate this post

    मिस्र का इतिहास

    Rate this post   मुख्य लेख : मिस्र का इतिहास   मिस्र के इतिहास में विदेशी शक्तियों और आंतरिक राजाओं (फ़राओ) का अंश रहा है । ईसा के 4000 साल पहले से चला आ रहा साम्राज्य छठी सदी ईसा पूर्व में ईरानियों के आक्रमण के बाद ख़त्म हुआ । उसके बाद चौथी सदी ईसा पूर्व में […]

  • Rate this post

    मिस्र

    Rate this post   अरब गणतंत्रमिस्र   جمهورية مصر العربية ज़म्हुरिय्यत मिस्र अल-अरबिय्याह ध्वज कुल चिन्ह राष्ट्रवाक्य: – राष्ट्रगान: बिलादी, बिलादी, बिलादी राजधानी (और सबसे बड़ा शहर) काहिरा 30°2′ N 31°13′ E राजभाषा(एँ) अरबी1 सरकार सेन्य शासन  – सेन्य कोँसल के चैयरमेन मुहम्मद हसन तंतावी  – प्रधान मंत्री कमाल ग़नज़ोरी स्थापना  – प्रथम साम्राज्य c.3150 ई.पू.  – यूके से स्वतंत्रता 28 […]

  • Rate this post

    बाप की ओर से बेटे को सबसे अच्छा उपहार

    Rate this post     पैग़म्बरे इस्लामः किसी बाप ने शिष्टाचार से बेहतर कोई उपहार अपने बच्चे को नहीं दिया अर्थात बाप की ओर से बच्चे को दिया जाने वाला सबसे अच्छा उपहार शिष्टाचार है।     शिष्टाचार का महत्व     इमाम जाफ़र सादिक़ अलैहिस्सलाम फ़रमाते हैः जब हश्र का दिन आएगा (वह दिन […]

  • Rate this post

    पैग़म्बरे इस्लाम की नज़र में मुसलमान कौन है

    Rate this post   मुसलमान वह है जिसकी ज़बान और हाथ से दूसरे मुसलमान सुरक्षित हों।     सबसे अच्छी प्रार्थना   ईश्वर से पापों की क्षमा मांगना सबसे अच्छी दुआ हैः पैग़म्बरे इस्लाम       दूसरों के बारे में बुरा सोचने का नुक़सान   दूसरों के बारे में बुरा सोचने वाला सदैव का […]

  • Rate this post

    अतिव्यय का नुक़सान – 2

    Rate this post अतिव्यय से तबाही आती है और मध्यमार्ग से संपत्ति बढ़ती हैः हज़रत अली अलैहिस्सलाम     अतिव्यय का नुक़सान   अतिव्यय या फ़ुज़ूलख़र्ची से अधिक संपत्ति भी बर्बाद हो जाती हैः हज़रत अली अलैहिस्सलाम     पैग़म्बरे इस्लाम की नज़र में मुसलमान कौन है   मुसलमान, मुसलमान का भाई है, उससे बेइमानी […]

  • Rate this post

    अतिव्यय का नुक़सान

    Rate this post अतिव्यय या फ़ुज़ूलख़र्ची से अधिक संपत्ति भी बर्बाद हो जाती हैः हज़रत अली अलैहिस्सलाम     पैग़म्बरे इस्लाम की नज़र में मुसलमान कौन है   मुसलमान, मुसलमान का भाई है, उससे बेइमानी नहीं करता, उससे झूठ नहीं बोलता और उसे अकेला नहीं छोड़ता।     पैग़म्बरे इस्लाम की नज़र में मुसलमान कौन […]

  • Rate this post

    सबसे अच्छी प्रार्थना

    Rate this post ईश्वर से पापों की क्षमा मांगना सबसे अच्छी दुआ हैः पैग़म्बरे इस्लाम       दूसरों के बारे में बुरा सोचने का नुक़सान   दूसरों के बारे में बुरा सोचने वाला सदैव का बीमार हैः हज़रत अली अलैहिस्सलाम       नेमत, ईश्वर की ओर से परीक्षा     इमाम जाफ़रे सादिक़ […]

  • Rate this post

    दूसरों के बारे में बुरा सोचने का नुक़सान

    Rate this post दूसरों के बारे में बुरा सोचने वाला सदैव का बीमार हैः हज़रत अली अलैहिस्सलाम नेमत, ईश्वर की ओर से परीक्षा इमाम जाफ़रे सादिक़ अलैहिस्सलाम फ़रमाते हैः ईश्वर ने एक क़ौम को नेमतें दी तो उन्होंने उसका आभार व्यक्त नहीं किया परिणामस्वरूप वे नेमतें उनके जी का जंजाल बन गयी और एक क़ौम […]

  • पेज10 से 12« आखिरी...89101112