islamic-sources

  • Rate this post

    यज़ीद रियाही के पुत्र हुर की पश्चाताप 7

    Rate this post पुस्तक का नामः पश्चाताप दया की आलंग्न लेखकः आयतुल्ला हुसैन अंसारीयान   जिस समय उमरे सआद युद्ध के लिए तैयार हो गया, हुर को इस बात का विश्वास नही था कि पैग़म्बरे अकरम सललल्लाहोअलैहेवाआलेहिवसल्लम के आदेशो का पालन करने वाले रसूल के पुत्र पर आक्रमण करने के लिए तैयार हो जाएंगे, इसवंश […]

  • Rate this post

    यज़ीद रियाही के पुत्र हुर की पश्चाताप 6

    Rate this post पुस्तक का नामः पश्चाताप दया की आलंग्न लेखकः आयतुल्ला हुसैन अंसारीयान   उसके उपरांत हुर ने कहाः मुझे आपके साथ युद्ध करने का आदेश नही है, आप ऐसे मार्ग का च्यन कर सकते है कि जो ना मदीना जाता हो और ना कूफा, शायद इसके बाद कोई ऐसा आदेश आए कि मै […]

  • Rate this post

    यज़ीद रियाही के पुत्र हुर की पश्चाताप 5

    Rate this post पुस्तक का नामः पश्चाताप दया की आलंग्न लेखकः आयतुल्ला हुसैन अंसारीयान   हुर ने उत्तर दियाः मुझे पत्रो से समबंधित कोई बोध नही है, इमाम अलैहिस्सलाम ने पत्र मंगवाए और हुर के सामने रख दिए, यह देख हुर ने कहाः मैने कोई पत्र नही लिखा है, मै यहीं से आप को अमीर […]

  • Rate this post

    यज़ीद रियाही के पुत्र हुर की पश्चाताप 4

    Rate this post पुस्तक का नामः पश्चाताप दया की आलंग्न लेखकः आयतुल्ला हुसैन अंसारीयान   परन्तु हुर की सेना की यह नमाज़ कूफ़े वालो के विरोधाभास एंव टकराव की प्रतिबिंबित कर रही थी क्योकि एक और इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के साथ नमाज़ पढ़ रहे है और इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के नेतृत्व को स्वीकार कर रहे […]

  • Rate this post

    यज़ीद रियाही के पुत्र हुर की पश्चाताप 3

    Rate this post पुस्तक का नामः पश्चाताप दया की आलंग्न लेखकः आयतुल्ला हुसैन अंसारीयान   एक शक्तिशाली सेनापति की ओर से यह वाक्य इस बात का प्रतीबिंबत है कि हुर का स्वयं और अपनी सेना पर कितना नियंत्रण था कि स्वयं भी इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के आगे विनम्रता के साथ पेश आया और अपने साथीयो […]

  • Rate this post

    यज़ीद रियाही के पुत्र हुर की पश्चाताप 2

    Rate this post पुस्तक का नामः पश्चाताप दया की आलंग्न लेखकः आयतुल्ला हुसैन अंसारीयान   इसके पहले वाले लेख मे बताया था कि हुर किसी का अंधा अनुकरण नही करता था इस लेख मे आप इस बात का अध्ययन करेंगे कि हुर ने आदेशपत्र लेने के बाद क्या किया सुबह के समय हुर की सरदारी […]

  • Rate this post

    यज़ीद रियाही के पुत्र हुर की पश्चाताप 1

    Rate this post पुस्तक का नामः पश्चाताप दया की आलंग्न लेखकः आयतुल्ला हुसैन अंसारीयान यज़ीद रियाही का पुत्र हुर आरम्भ मे इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के साथ नही था, किन्तु अंतः इमाम हुसैन अलैहिस्सलाम के साथ हो गए, हुर एक जवान और स्वतंत्र मनुष्य था, इस व्यर्थ के वाक्य अलमामूरो माज़ूरुन (अर्थात तैनात व्यक्ति अपंग होता है) […]

  • Rate this post

    ग़ीबत चुगली

    Rate this post हमारे घरों में अक्सर झगड़े और फ़साद की एक वजह होती है। वो वजह इतनी हम लोगों में जड़ पा चुकी है कि हमें खुद इसके वजूद का एहसास तक नहीं होता.. वो है ग़ीबत…यह वो चीज़ है जिसको हम सोचने बैठें तो हमें पता नहीं चलता के कहाँ से शुरू हुई…. […]

  • Rate this post

    माँ बाप के अधिकार – 2

    Rate this post 2.  अनैतिकता व चिड़चिड़ेपन से परहेज़। किसी बात से नाराजगी पर इंसान की सबसे मामूली प्रतिक्रिया यह होती है कि उसकी ज़बान से उफ़्फ़ निकल जाता है और उफ़्फ़ वह आवाज़ है जो किसी मामूली अफ़सोस के क्षणों में इंसान की ज़बान पर आ जाती है, अल्लाह तआला को इतना मामूली शिकवा […]

  • Rate this post

    माँ बाप के अधिकार – 1

    Rate this post हमें अच्छी तरह मालूम है कि इस्लाम एक समाजिक और सोशल दीन है और उसके मानने वाले केवल अल्लाह तआला की इच्छा के लिए और उसकी राह में क़दम उठाते हुए एक दूसरे से सम्बंध और सम्पर्क रखते हैं। इस्लाम ने हमें समाज में ज़िन्दगी बिताने के सिद्धांत भी अच्छी तरह बता […]

  • Rate this post

    उदाहरणीय महिला 4

    Rate this post पुस्तकः पश्चाताप दया की आलिंग्न लेखकः आयतुल्ला अनसारीयान   وَضَرَبَ اللَّهُ مَثَلاً لِلَّذِينَ آمَنُوا امْرَأَةَ فِرْعَوْنَ إِذْ قَالَتْ رَبِّ ابْنِ لِي عِندَكَ بَيْتاً فِي الْجَنَّةِ وَنَجِّنِي مِن فِرْعَوْنَ وَعَمَلِهِ وَنَجِّنِي مِنَ الْقَوْمِ الظَّالِمِينَ   “वा ज़राबल्लाहो मसालन लिललज़ीन आमानू इम्रअता फ़िरऔना इज़ क़ालत रब्बिबने ली इनदका बैतन फ़ील जन्नते वानज्जेनी मिन फ़िरऔना […]

  • Rate this post

    उदाहरणीय महिला 3

    Rate this post पुस्तकः पश्चाताप दया की आलिंग्न लेखकः आयतुल्ला अनसारीयान   जी हाँ, यह कैसे सम्भव है कि ईश्वर को फ़िरऔन से, सत्य को झूठ से, प्रकाश को अंधकार से, सही को ग़लत से, परलोक को लोक से, स्वर्ग को नर्क से तथा शालीनता (सआदत) को बदबख्ती से परिवर्तित कर ले। आसिया ने अपने […]

  • Rate this post

    उदाहरणीय महिला 2

    Rate this post   पुस्तकः पश्चाताप दया की आलिंग्न लेखकः आयतुल्ला अनसारीयान   जबकि उसको इस बात का ज्ञान था कि इमान लाने के कारण उसकी सारी ख़ुशिया, स्थान छिन सकता है तथा उसके प्राण भी जा सकते है, परन्तु उसने हक़ को स्वीकार कर लिया और वह दयालु ईश्वर पर इमान ले आई, और […]

  • Rate this post

    उदाहरणीय महिला 1

    Rate this post पुस्तकः पश्चाताप दया की आलिंग्न लेखकः आयतुल्ला अनसारीयान   لَقَدْ كانَ فِى قِصَصِهِمْ عِبْرَةٌ لاُولِى الاَلْبابِ   “लक़द काना फ़ी क़ेसासेहिम इबरतुन लेऊलिलअलबाब…”(सुरए युसुफ़ 12, छंद 111) निश्चितरूप से उनकी कहानियां (घटनाएं,वाक़ेआत) बुद्धिमानो के लिए इबरत है।   पश्चातापीयो की कहानीया   उदाहरणीय महिला आसिया फ़िरऔन की पत्नि थी, वह फ़िरऔन जिसमे […]

  • Rate this post

    अभागा व्यक्ति

    Rate this post अभागा है वह व्यक्ति जो अपनी इच्छाओं पर मर मिटेः हज़रत अली अलैहिस्सलाम पहले मज़दूरी तय करने की अहमियत पैग़म्बरे इस्लाम ने मज़दूर को मज़दूरी तय करने से पहले काम पर लगाने से मना किया हैः हज़रत अली अलैहिस्सलाम दिखावे का नुक़सान ईश्वर उस कर्म (अमल) को स्वीकार नहीं करता जिसमें तनिक […]

  • Rate this post

    शावाना की पश्चाताप

    Rate this post पुस्तक का नामः पश्चाताप दया की आलंग्न लेखकः आयतुल्ला हुसैन अंसारियान   स्वर्गीय मुल्ला अहमद नराक़ी अपनी मैराजुस्सआदत नामी अख़लाक़ी महान पुस्तक मे वास्तविक पश्चाताप के संदर्भ मे एक विचित्र घटना का वर्णन करते हुए कहते हैः शावाना एक जवान डांसर महिला थी, जिसकी आवाज अत्यधिक सुरीली थी, किन्तु वह वैध एंव […]

  • Rate this post

    कुरुक्षेत्र मे पश्चाताप

    Rate this post पुस्तक का नामः पश्चाताप दया की आलंग्न लेखकः आयतुल्ला हुसैन अंसारियान   मुज़ाहिम के पुत्र नस्र सिफ़्फ़ीन की घटना नामी पुस्तक मे हाशिम मरक़ाल के हवाले से कहते हैः सिफ़्फ़ीन के युद्ध मे हज़रत अली अलैहिस्सलाम की सहायता के लिए कुच्छ क़ुरआन पढ़ने वाले (क़ारी) सम्मिलित थे, मुआविया की ओर से ग़स्सान […]

  • Rate this post

    सच्चा व्यक्ति और पश्चाताप करने वाला चोर

    Rate this post पुस्तक का नामः पश्चाताप दया की आलंग्न लेखकः आयतुल्ला हुसैन अंसारियान   सज्जन पुरूष अबू उमर ज़जाजी कहते हैः मेरी माता का स्वर्गवास हो गया उनकी वीरासत से मुझे एक घर प्राप्त हुआ, मै उस घर को बेचकर हज के लिए चल पड़ा, जिस समय मै नैनवा नामी धरती पर पहुंचा तो […]

  • Rate this post

    पापी और पश्चाताप की आशा

    Rate this post पुस्तक का नामः पश्चाताप दया की आलंग्न लेखकः आयतुल्ला हुसैन अंसारियान   एक सज्जन पुरूष को बहुत अधिक रोता हुआ देखा गया तो लोगो ने उससे रोने का कारण पूछा उसने उत्तर दियाः यदि ईश्वर ने मुझ से कहा कि तुझे पापो के कारण गरम हम्माम मे सदैव के लिए क़ैद कर […]

  • Rate this post

    पापी और पश्चाताप की मोहलत

    Rate this post पुस्तक का नामः पश्चाताप दया की आलंग्न लेखकः आयतुल्ला हुसैन अंसारियान   जिस समय शैतान खुदा की लानत (फिटकार) का हक़दार हुआ तो उसने प्रलय के दिन तक ईश्वर से मोहलत मांगी, अल्लाह ने कहाः ठीक है मगर यह मोहलत लेकर तू क्या करेगा? उत्तर दियाः हे पालनहार! मै अंतिम समय तक तेरे सेवको […]

  • पेज3 से 512345