islamic-sources

  • ALL
    E-Books
    Articles

    date

    1. date
    2. title
    • ईश्वरीय आतिथ्य-10 धैर्य एवं संयम
      Rate this post

      ईश्वरीय आतिथ्य-10 धैर्य एवं संयम

      ईश्वरीय आतिथ्य-10 धैर्य एवं संयमRate this post रमज़ान के पवित्र महीने में रोज़ा रखने वालों पर स्वर्ग की शीतल व सुहावना पवन बह रहा है। हमें चाहिये कि हम अपने हृदयों को इस पवित्र महीने की १३वें दिन की दुआ से प्रकाशमयी बनायें। हे ईश्वर! हे हमारे पालनहार! आज के दिन में हमें अपवित्रताओं से […]

    • रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (12)
      Rate this post

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (12)

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (12)Rate this post इस साल पवित्र रमज़ान गर्मियों में पड़ा है।  विश्व के बहुत से देशों में लोग भीषण गर्मी में रोज़े रख रहे हैं।  निश्चित रूप से इस गर्मी में रोज़े का सवाब अर्थात पुण्य भी अधिक है।  इस बारे में पैग़म्बरे इस्लाम (स) का कथन है कि गर्मी […]

    • सृष्टि ईश्वर और धर्म 76
      Rate this post

      सृष्टि ईश्वर और धर्म 76

      सृष्टि ईश्वर और धर्म 76Rate this post बुद्धि तथा अन्य मार्गों से परलोक के बारे में हमें जो जानकारियां प्राप्त हुई हैं उनके आधार पर हम लोक व परलोक की कई आयामों से एक दूसरे से तुलना कर सकते हैं यद्यपि दोनों के मध्य बहुत अधिक अंतर है। इस संसार और परलोक के मध्य सब […]

    •  313 सहाबियों में सब एक रुतबे पर फ़ायज़ होंगे ?
      313 सहाबियों में सब एक रुतबे पर फ़ायज़ होंगे ?
      Rate this post

      313 सहाबियों में सब एक रुतबे पर फ़ायज़ होंगे ?

      313 सहाबियों में सब एक रुतबे पर फ़ायज़ होंगे ?Rate this post क्या इमाम-ए-ज़माना अज्जलल्लाहु फरजहुश्शरीफ के 313 सहाबियों में सब एक रुतबे पर फ़ायज़ होंगे ? सवालः क्या इमाम-ए-ज़माना अज्जलल्लाहु फरजहुश्शरीफ के 313 सहाबियों में सब एक रुतबे पर फ़ायज़ होंगे ? और क्या सब का दर्जा एक होगा ? या मानवी दर्जों के […]

    •  यह हक़ीक़त है
      यह हक़ीक़त है
      Rate this post

      यह हक़ीक़त है

      यह हक़ीक़त हैRate this post किताब: यह हक़ीक़त है लेखक: हुज्जतुल इस्लाम वल मुसलेमीन शेख़ जाफ़र अल हादी

    • पवित्र रमज़ान-7
      Rate this post

      पवित्र रमज़ान-7

      पवित्र रमज़ान-7Rate this post आज हम दुआ अर्थात प्रार्थना के विषय पर चर्चा करेंगे।सर्वसमर्थ एवं महान ईश्वर ने दुआ का आदेश देते हुए कहा है कि जो लोग दुआ करने से मुंह मोड़ेंगे उन्हें मैं निकट ही नरक में डाल दूंगा। इससे यह पता चलता है कि दुआ एक ऐसी चीज़ है जिसे ईश्वर बहुत […]

    • रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (15)
      Rate this post

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (15)

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (15)Rate this post इस संसार के अन्त में लौटने का कोई मार्ग नहीं है ठीक उसी प्रकार जैसे अविकसित व विकरित बच्चा विकास करने एवं विकार दूर करने के लिये पुनः माता के पेट में नहीं जा सकता तथा पेड़ से टूटा हुआ फल दोबारा पेड़ में नहीं लग सकता। […]

    • नन्हे – मुन्ने शिशुओं की समस्याऐं
      Rate this post

      नन्हे – मुन्ने शिशुओं की समस्याऐं

      नन्हे – मुन्ने शिशुओं की समस्याऐंRate this post आप का शिशु जब जन्म लेता है तो उसका मस्तिष्क सीखने के लिए तैयार होता है। जब वो आंखें खोलता है, उसकी बुद्धि अपने चारों ओर की चीज़ों को समझने के लिए तैयार हो जाती है। अब आप यह देखें कि इसमें आप उसकी किस प्रकार सहायता […]

    • रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (11)
      Rate this post

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (11)

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (11)Rate this post ईश्वर से आपकी उपासनाओं की स्वीकारोक्ति की कामना के साथ कार्यक्रम को एक बार फिर इमाम ज़ैनुल आबेदीन अलैहिस्सलाम की प्रसिद्ध दुआ मकारेमुल अख़लाक़ के एक टुकड़े से आरंभ कर रहे हैं। इमाम ज़ैनुल आबेदीन अलैहिस्सलाम इस दुआ में एक स्थान पर कहते हैः हे पालनहार! मुझे […]

    • महान ईश्वर सर्वज्ञाता है : 1
      Rate this post

      महान ईश्वर सर्वज्ञाता है : 1

      महान ईश्वर सर्वज्ञाता है : 1Rate this post जो लोग यह मानते हैं कि मनुष्य का हर काम ईश्वर के आदेश से होता है और मनुष्य में अपना कोई इरादा नहीं होता और वह अपने इरादे से कोई काम नहीं कर सकता उनका कहना है कि मनुष्य का इरादा आंतिरक रूचियों व रुझानों से बनता […]

    • रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (4)
      Rate this post

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (4)

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (4)Rate this post इमाम ज़ैनुलआबेदीन की प्रसिद्ध दुआ मकारेमुलअखलाक़ के एक भाग में कहा गया हैः हे ईश्वर अपनी कृपा से मेरी नीयत को सम्पूर्ण कर दे और अपने ऊपर मेरे विश्वास को सही करदे और मेरी भीतर जो खराबियां हैं उन्हें अपनी शक्ति से ठीक कर दे। नीयत के […]

    • सृष्टि ईश्वर और धर्म-17 कैसा है ईश्वर का जीवन?
      Rate this post

      सृष्टि ईश्वर और धर्म-17 कैसा है ईश्वर का जीवन?

      सृष्टि ईश्वर और धर्म-17 कैसा है ईश्वर का जीवन?Rate this post ईश्वर के व्यक्तिगत गुणों में से एक जीवन है। हम इसी विषय की समीक्षा करेंगे। इस विश्व और ब्रह्मांड में बहुत सी चीज़े जीवित हैं किंतु उन में बहुत अंतर है। जीवन में भी अंतर होता है। जब हम यह कहते हैं कि ईश्वर […]

    • सृष्टि ईश्वर और धर्म 38- ईश्वर अपनी हर रचना से प्रेम करता है
      Rate this post

      सृष्टि ईश्वर और धर्म 38- ईश्वर अपनी हर रचना से प्रेम करता है

      सृष्टि ईश्वर और धर्म 38- ईश्वर अपनी हर रचना से प्रेम करता हैRate this post ईश्वर न्यायी है यह लगभग सभी लोग मानते हैं किंतु बहुत लोग इस पर यह आपत्ति करते हैं कि ईश्वर की विभिन्न रचनाओं और स्वंय मनुष्य में पाई जाने वाली विविधता और विभिन्नता किस प्रकार से ईश्वर के न्याय के […]

    • रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (23)
      Rate this post

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (23)

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (23)Rate this post इमाम सज्जाद(अ) मकारेमुल अख़लाक़ नामक दुआ में एक स्थान पर ईश्वर से विनती करते हुये कहते हैः “हे पालनहार, मोहम्मद और उनके परिजनों पर सलाम भेज तथा मुझे जीवन के सभी कामों में सन्तुलन एवं मध्यमार्ग से लाभान्वित कर।” सन्तुलन एवं मध्य मार्ग, अतिवाद से दूरी का नाम है और यही वह सीधा रास्ता […]

    • अल्लाह की पहचान
      Rate this post

      अल्लाह की पहचान

      अल्लाह की पहचानRate this post दीन का आधार सृष्टि के रचयता के वुजूद पर विश्वास रखना है और भौतिकवादी व इलाही विचारधारा के बीच मुख्य अंतर भी इसी विश्वास का होना और न होना है। इस आधार पर सत्य के खोजी के सामने जो पहली बात आती है और जिस का जवाब उसके लिए किसी […]

    • रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (25)
      Rate this post

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (25)

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (25)Rate this post हज़रत इमाम सज्जाद अलैहिस्सलाम दुआ के इस भाग में कहते हैं” पालनहार! यदि मैं दुःखी होता हूं तो तू मेरा आश्रय है और यदि मैं वंचित होता हूं तू मेरी आशा व भरोसा है” इमाम सज्जाद अलैहिस्सलाम ने अपनी दुआ में उद्दा शब्द का प्रयोग किया है […]

    • सृष्टि ईश्वर और धर्म 25- कारक और ईश्वर
      Rate this post

      सृष्टि ईश्वर और धर्म 25- कारक और ईश्वर

      सृष्टि ईश्वर और धर्म 25- कारक और ईश्वरRate this post पश्चिमी बुद्धिजीवी ईश्वर के अस्तित्व की इस दलील पर कि हर वस्तु के लिए एक कारक और बनाने वाला होना चाहिए यह आपत्ति भी करते हैं कि यदि यह सिदान्त सर्वव्यापी है अर्थात हर अस्तित्व के लिए एक कारक का होना हर दशा में आवश्यक […]

    • रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (16)
      Rate this post

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (16)

      रमज़ानुल मुबारक – 2013 – (16)Rate this post उचित खान पान का यदि प्रबन्ध रखा जाये तो शिशु को दूध पिलाने वाली माताओं के रोज़ा रखने में कोई समस्या नहीं है। परन्तु इस बात की अनुशंसा की जाती है कि दूध पिलाने वाली मातायें पहले 6 महीने की अवधि में रोज़ा न रखें क्योंकि बच्चा […]

    • सृष्टि ईश्वर और धर्म-61
      Rate this post

      सृष्टि ईश्वर और धर्म-61

      सृष्टि ईश्वर और धर्म-61Rate this post हज़रत मोहम्मद सल्लल्लाहो अलैही व आलेही व सल्लम जिन्हें मुसलमान अंतिम ईश्वरीय दूत मानते हैं सदैव ही इतिहासकारों की दृष्टि में एक सम्मानीय व्यक्ति रहे हैं और पश्चिमी इतिहासकारों ने भी उन्हें यद्यपि ईश्वरीय दूत के रूप में स्वीकार नहीं किया है किंतु इसके बावजूद इतिहास के एक महापुरुष […]

    • सिफ़ाते जलाले ख़ुदा
      Rate this post

      सिफ़ाते जलाले ख़ुदा

      सिफ़ाते जलाले ख़ुदाRate this post ख़ुदा हमेंशा से है और हमेंशा रहेगा वह समस्त नुक़्स व ऐब से पाक व पवित्र है। प्रत्येक कम व बेशि से दूर है, वह उपस्थित जैसी उपस्थित नहीं है कि शरीर का मोह्ताज हो या विभिन्न प्रकार किसी आज ज़ा से पैदा नहीं है कि किसी स्थान को पुर […]

    more