islamic-sources

Languages
ALL
E-Books
Articles

date

  1. date
  2. title
  •  कूरआन का आसान हिन्दी अनुवाद
    Rate this post

    कूरआन का आसान हिन्दी अनुवाद

    Rate this post अनुवादक  हाफिज नजर अहमद

  • Rate this post

    सूरए हुजरात

    Rate this post लेखक- उस्ताद मोहसिन क़राती अनुवादक- सैय्यद क़मर ग़ाज़ी सूरए हुजरात मदीनें में नाज़िल हुआ और इसकी अठ्ठारह आयतें हैं। यह सूरए आदाब व अखलाक़ के नाम से भी मशहूर है। हुजरात हुजरे (कमरे) का बहुवचन है। इस सूरह मे रसूलेअकरम (स.) के हुजरों (कमरों) का वर्णन हुआ है। इसी वजह से इस […]

  • Rate this post

    क़ुरआन करीम

    Rate this post ASAN HINDI TARJUMA haif>j> nj>r Ahmd Hindi transliteration is done by a team of www.understandquran.com Tel: 0091-6456-4829 / 0091-9908787858 Hyderabad, India www.Momeen.blogspot.com www

  • Rate this post

    आयतल कुर्सी का तर्जमा

    Rate this post 2.255: ख़ुदा ही वो ज़ाते पाक है कि उसके सिवा कोई माबूद नहीं (वह) ज़िन्दा है (और) सारे जहान का संभालने वाला है उसको न ऊँघ आती है न नींद जो कुछ आसमानो में है और जो कुछ ज़मीन में है (गरज़ सब कुछ) उसी का है कौन ऐसा है जो बग़ैर […]

  • Rate this post

    114 सूरए नास

    Rate this post 114 सूरए नास का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम (दयालु और कृपालु) है। 1-ऐ रसूल कह दीजिए कि मैं इंसानों के रब (अल्लाह)) की पनाह(शरण) चाहता हूँ। 2-जो तमाम लोग़ों का मालिक है। 3-जो सब इंसानों का माबूद(जिसकी इबादत की जाये) है। 4-छुप कर व […]

  • Rate this post

    113 सूरए फ़लक़

    Rate this post 113 सूरए फ़लक़ का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1-ऐ रसूल कह दीजिए कि मैं सुबह के मालिक की पनाह चाहता हूँ। 2-जो कुछ भी पैदा किया गया है उसके शर(उप द्रव) से बचने के लिए 3-और अंधेरी रात के शर से (बचने के […]

  • Rate this post

    112 सूरए इखलास

    Rate this post 112 सूरए इखलास का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1-(ऐ रसूल) कह दीजिए कि वह अल्लाह एक है। 2-अल्लाह बेनियाज़ है। अर्थात अल्लाह को किसी चीज़ की आवश्यक्ता नही है। 3-न वह किसी की संतान है और न ही उसके कोई संतान है। 4-और […]

  • Rate this post

    111 सूरए मसद

    Rate this post 111 सूरए मसद का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1-अबु लहब के दोनों हाथ टूट जायें और वह मर जाये। 2-उसके माल और कमाये हुए सामान ने उसे कोई फ़ायदा नही दिया। 3-वह जल्दी ही भड़कती हुई आग मे डाला जायेगा। 4-और उसकी पत्नी […]

  • Rate this post

    110 सूरए नस्र

    Rate this post 110 सूरए नस्र का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1-जब अल्लाह की मदद और फ़तह( विजय) मिल जायेगी। 2-तो आप देखेंगे कि असंख्यक लोग अल्लाह के दीन मे सम्मिलित होंगें। 3-बस अपने पालने वाले की हम्द के साथ तस्बीह करो और उससे इस्तग़फ़ार करो( […]

  • Rate this post

    109 सूरए काफ़िरून

    Rate this post 109 सूरए काफ़िरून का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1-(ऐ रसूल) आप काफ़िरों से कह दीजिए। 2-मैं (उन बुतों) की इबादत नही कर सकता जिन की तुम इबादत करते हो। 3-और तुम उस (अल्लाह) की इबात नही कर सकते जिसकी मैं इबादत करता हूँ। […]

  • Rate this post

    108 सूरए कौसर

    Rate this post 108 सूरए कौसर का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1-(ऐ रसूल) हमने आपको कौसर दिया। 2-बस अपने पालने वाले की नमाज़ पढ़ो और क़ुर्बानी दो। 3-वास्तव में आपका दुश्मन बे औलादा (संतान हीन) है।

  • Rate this post

    107 सूरए माऊन

    Rate this post 107 सूरए माऊन का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1-क्या तुमने क़ियामत को झुटलाने वाले (इंसान) को देखा। 2-वह वही है जो यतीम को (गुस्से के साथ) भगा देता है। 3-और यतीमो (अनाथों) को खाना खिलाने के लिए दूसरे लोगों को तशवीक़(प्रोतसाहित) भी नही […]

  • Rate this post

    106 सूरए क़ुरैश

    Rate this post 106 सूरए क़ुरैश का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1- (अबरहे और उसकी सेना का इस लिए विनाश किया गया) कि क़ुरैश को (इस मुक़द्दस ज़मीन अर्थात मक्के से) मुहब्बत हो जाये। 2- ताकि (इस मुहब्बत के कारण) वह सर्दी और गर्मी की उन […]

  • 105सूरए फ़ील
    4 (80%) 1 vote

    105सूरए फ़ील

    105सूरए फ़ील 4 (80%) 1 vote 105सूरए फ़ील का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1-क्या तुमने नही देखा कि तुम्हारे पालने वाले (अल्लाह) ने हाथीयों वालों(अबरहे की वह फ़ौज जो हाथियों पर सवार हो कर खाना- ए- काबा को ढाने के लिए आयी थी) के साथ क्या […]

  • Rate this post

    104 सूरए होमज़ा

    Rate this post 104 सूरए होमज़ा का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1-तबाही और बर्बादी है हर चुग़लख़ोर और मज़ाक़ उड़ाने वाले के लिए। 2-जिसने माल को जमा किया और उसको गिन गिन कर रखा। 3-वह यह सोचता है कि यह माल उसको हमेशा जिंदा रखेगा। 4-(जो […]

  • 103 सूरए अस्र
    4 (80%) 1 vote

    103 सूरए अस्र

    103 सूरए अस्र 4 (80%) 1 vote 103 सूरए अस्र का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1- समय की सौगंध। 2- पूरी मानवता घाटे मे है। 3- उन लोगों को छोड़ कर जिन्होंने ईमान लाने के बाद नेक काम किये और आपस मे एक दूसरे को हक़ […]

  • 102 सूरए तकासुर
    4 (80%) 1 vote

    102 सूरए तकासुर

    102 सूरए तकासुर 4 (80%) 1 vote 102 सूरए तकासुर का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1- तुम अधिक प्राप्ति और गर्व की होड़ मे व्यस्त हो गये (जिसने तुम्हें अल्लाह की याद से दूर कर दिया) 2- यहाँ तक कि तुम क़ब्रों पर गये (और अपने […]

  • 101 सूरए अल क़ारिआ
    4 (80%) 1 vote

    101 सूरए अल क़ारिआ

    101 सूरए अल क़ारिआ 4 (80%) 1 vote 101 सूरए अल क़ारिआ का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1- खड़ खड़ाने वाली। 2- और कैसी खड़खड़ाने वाली। 3- और तुम्हें क्या जानों वह खड़ खड़ाने वाली क्या है। 4- जिस दिन लोग बिखरे हुए पतंगों(उड़ने वाले कीड़े) […]

  • Rate this post

    100 सूरए आदियात

    Rate this post 100 सूरए आदियात का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1- तेज़ रफ़्तार दौड़ते हुए घोड़ों की क़सम। 2- जो टाप मार कर चिंगारियाँ उड़ाते हैं। 3- और सुबह के वक़्त हमला करते हैं। 4- फिर ग़ुबारे जंग उड़ाते हैं। 5- और दुशमन के लश्कर […]

  • Rate this post

    99- सूरए ज़िलज़ाल

    Rate this post 99- सूरए ज़िलज़ाल का अनुवाद शुरू करता हूँ अल्लाह के नाम से जो रहमान और रहीम है। 1- जब ज़मीन ज़ोरदार ज़लज़ले में आजायेगी. 2- और वह सारे ख़ज़ाने निकाल डालेगी। 3- और इंसान कहेगा कि इसे क्या हो गया। 4- उस दिन वह अपनी खबरें ब्यान करेगी। 5- कि तुम्हारे पालने […]

more