islamic-sources

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें – 35

    Rate this post आज के कार्यक्रम में हम विदेश में ईरान के सांस्कृतिक विचार विमर्श केन्द्र से संबंधित ईरान की गतिविधियों के कुछ भागों से परिचित होंगे। वास्तव में ईरान का सांस्कृतिक विचार विमर्श केन्द्र, इस्लामी संपर्क व सांस्कृतिक संगठन से संबंधित संस्था है और ईरान से बाहर संस्कृति के क्षेत्र में अपनी मूल्यवान गतिविधियां […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें – 34

    Rate this post ईरान की मूल पेंटिंग को मिनियातोर अर्थात मिनिएचर कहते हैं। इस कला में प्रायः सीधी लाइन का प्रयोग नहीं किया जाता बल्कि घुमावदार चित्र को बहुत ही बारीक नोक वाले क़लम से बड़ी सूक्ष्मता से बनाते हैं। सैकड़ों वर्ष से इस सूक्ष्म व सुंदर कला को बोर्डों और लिखित किताबों पर प्रयोग […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें – 33

    Rate this post आज के कार्यक्रम में इस्लामी गणतंत्र ईरान के संस्थापक इमाम ख़ुमैनी पर चर्चा करेंगे। जिसने भी ईरान का नाम सुना होगा वह इमाम ख़ुमैनी के नाम से अवश्य ही परिचित होगा। वह विश्व की बड़ी धार्मिक हस्ती और राजनेताओं में गिने जाते थे। उनका पूरा नाम रूहुल्लाह मूसवी ख़ुमैनी था। उनका जन्म […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें – 32

    Rate this post मोहम्मद, सईद और रामीन एक दूसरे के साथ किश्म से कीश द्वीप चले गये हैं। नौका से यात्रा, ठंडी हवा और फार्स की खाड़ी में सूर्यास्त का दृश्य उन्हें भूलता नहीं। इस समय वे कीश द्वीप पहुंच चुके हैं और वहां वे होटल गये हैं। कीश फार्स की खाड़ी के सुन्दर द्वीपों […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें – 31

    Rate this post आज के कार्यक्रम में हम आपको ईरान के रेलमार्ग के एक एतिहासिक एवं रोचक पुल से अवगत करायेंगे। यह पुल, जिसे विश्व ख्याति प्राप्ति है, पुले वरसक के नाम से प्रसिद्ध है। पुले वरसक को अपने निर्माणकाल में ईरान में आबादी व विकास के महत्वपूर्ण कार्यों में समझा जाता था। इस पुल […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें – 30

    Rate this post ईरान की इस्लामी क्रांति के संस्थापक स्वर्गीय इमाम ख़ुमैनी की एक विशेषता यह भी थी कि वे लोगों की समस्याओं पर बहुत अधिक ध्यान देते थे और ईरान व विश्व की सामयिक घटनाओं से अवगत रहते थे। उन्हें ईरान पर शासन करने वाली शाही सरकार के अत्याचारों से बहुत अधिक दुख होता […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें-29

    Rate this post जैसा कि आपको याद होगा पिछली कुछ कड़ियों में हमने संक्षेप रूप से आपको ईरान के मार्गों से अवगत कराया। पिछली कड़ी में हमने ईरान के हवाई उद्योग एवं मार्गों के संबंध में बातचीत की, इस कार्यक्रम में हम ईरान में हवाई यात्रा के बारे में बातचीत करेंगे। यद्यपि विमानन उद्योग और […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें-28

    Rate this post आज के कार्यक्रम में ईरानी रेलवे के इतिहास के बारे में बात करेंगे। वर्ष 1886 में तेहरान और शहरे रै के बीच ईरान की प्रथम रेलवे लाइन का निर्माण हुआ। इस पटरी की लम्बाई लगभग 8700 मीटर थी। तत्पश्चात ईरान के विभिन्न नगरों के बीच छोटी छोटी रेल पटरियां बिछाई गईं। ईरान […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें-27

    Rate this post आज के कार्यक्रम में हम आपको एक सक्रिय ईरानी युवा से परिचित कराना चाहते हैं। हुसैन अहमदी एक सफल व मेहनती युवा हैं। उन्होंने अर्थशास्त्र की पढ़ाई की है और अन्य देशों को सूखे फल निर्यात करने का काम करते हैं। श्री महदी अलवी उनके भागीदार है जिन्होंने उद्योग के क्षेत्र में […]

  • Rate this post

    आईये फारसी सीखें – 26

    Rate this post पिछले कार्यक्रम में हमने रेशम मार्ग के बारे में बातचीत की थी। आज के कार्यक्रम में मोहम्मद और सईद ईरान के मार्गों के बारे में अपनी बातचीत जारी रखेंगे। इस कार्यक्रम में हम आपको एक प्राचीन मार्ग जाद्दए शाही अथवा राज्य मार्ग से परिचित करवायेंगे। इस मार्ग का निर्माण हख़ामनी वंश के […]

  • Rate this post

    आईये फारसी सीखें – 25

    Rate this post आज  की चर्चा में हम आपको एक सक्रिय ईरानी युवा से परिचित कराना चाहते हैं। हुसैन अहमदी एक सफल व मेहनती युवा हैं। उन्होंने अर्थशास्त्र की पढ़ाई की है और अन्य देशों को सूखे फल निर्यात करने का काम करते हैं। श्री महदी अलवी उनके भागीदार है जिन्होंने उद्योग के क्षेत्र में […]

  • Rate this post

    आईये फारसी सीखें – 24

    Rate this post मुहम्मद लोरिस्तान प्रांत के एक छात्र से परिचित हुआ और उसने लोरी भाषा और लोरिस्तान प्रांत के बारे में कुछ नई बातें सीखीं। वह मसऊद से बात करता है जो हंसमुख स्वभाव का एक लम्बा युवा है। उसके चेहरे से ही स्नेह टपकता है और वह मनमोहर लोरी लहजे में अपने प्रांत […]

  • Rate this post

    आईये फारसी सीखें – 23

    Rate this post पर्वतारोही शूरवीरों में से एक और एवरेस्ट की चोटी पर चढ़ने वाली ईरानी महिला नसरीन नेअमती हैं। उन्होंने विश्वविद्यालय के व्यायाम हाल में पर्वतारोही टीम के मध्य भाषण दिया। उनके भाषण के बाद मोहम्मद और उसके मित्र बहादुरी और पहलवानी के बारे में एक दूसरे से बात करते हैं। पहलवान फार्सी भाषा […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें – 22

    Rate this post मुहम्मद और सईद विश्वविद्यालय में हैं और कुछ छात्रों के साथ विश्वविद्यालय के हाल में खड़े बातें कर रहे हैं। व्यायाम और खेल कूद का हाल, छात्रों के एकत्रित होने और वालीबाल, बास्केटबाल, टेनिस और ऐसे ही के लिए बड़ा उचित स्थान है। आज सुश्री नसरीन नेमती विश्वविद्यालय में आई हैं जो […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें – 21

    Rate this post ईरान में लकड़ी के हस्तकला उद्योगों में से एक क़लमकारी भी है जो बहुत ही सूक्ष्म कला है। आज की चर्चा में हम आपको क़लमकारी से परिचित कराएंगे। क़लमकारी में क़लमकार, अनेक प्रकार की लकड़ियों, हाथी के दांत, हड्डी और सीप को प्रयोग करता है। इन वस्तुओं को त्रिभुज से लेकर दसभुजाओं […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें – 20

    Rate this post दो मित्र मुहम्मद और रामीन बाज़ार की मस्जिद में पवित्र क़ुरआन को सजाने और उसको प्रदीप्त करने के बारे में बात कर रहे हैं। मुहम्मद मस्जिद में रखे सुन्दर मिंबर की ओर जाता है। लकड़ी की बनी सीढ़ीदार व ऊंची कुर्सी को मिंबर कहते हैं। मिंबर में लगभग चार से पांच सीढ़ीयां […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें, 19

    Rate this post दो मित्र मुहम्मद और रामीन बाज़ार की मस्जिद में पवित्र क़ुरआन को सजाने, उद्घोधन और उसको प्रदीप्त करने के बारे में बात कर रहे हैं। मुहम्मद मस्जिद में रखे सुन्दर मिंबर की ओर जाता है। लकड़ी की बनी सीढ़ीदार व ऊंची कुर्सी को मिंबर कहते हैं। मिंबर में लगभग चार से पांच […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें- 18

    Rate this post मोहम्मद और सईद शुक्रवार को रेस्त्रां जाने का कार्यक्रम बनाते हैं ताकि वहां फ़िसन्जान नामक विशेष ईरानी पकवान खाएं। मोहम्मद ने अभी तक फ़िसन्जान नहीं खाया है। फ़िसन्जान एक सालन है जिसे पुलाव के साथ खाया जाता है। फ़िसन्जान पकाने में चिकन या क़ीमे को पिसे हुए अख़रोट के साथ, कुछ पियाज़ […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखे 17

    Rate this post ईरान में हर साल अंतर्राष्ट्रीय फ़ज्र फ़िल्म मेला आयोजित होता है। यह फ़ेस्टिवल ईरानी वर्ष के ग्यारहवें महीने में बहन जो जनवरी-फ़रवरी में आता है, इस्लामी क्रान्ति की सफलता की वर्षगांठ के अवसर पर यह फ़िल्म फ़ेस्टिवल आयोजित होता है। इस फ़िल्म मेले में ईरानी एवं विदेशी फ़िल्म निर्माताओं और निर्देशकों की […]

  • Rate this post

    आईये फ़ारसी सीखें-16

    Rate this post ईरान में लकड़ी के हस्तकला उद्योगों में से एक क़लमकारी भी है जो बहुत ही सूक्ष्म कला है। आज की चर्चा में हम आपको क़लमकारी से परिचित कराएंगे। क़लमकारी में क़लमकार, अनेक प्रकार की लकड़ियों, हाथी के दांत, हड्डी और सीप को प्रयोग करता है। इन वस्तुओं को त्रिभुज से लेकर दसभुजाओं […]

  • पेज3 से 41234