islamic-sources

  • ALL
    E-Books
    Articles

    date

    1. date
    2. title
    •  अमीरुल मोमिनीन अली (अ) का जीवन परिचय  व आपकी विशेषताऐं
      Rate this post

      अमीरुल मोमिनीन अली (अ) का जीवन परिचय व आपकी विशेषताऐं

      Rate this post आपका नाम अली व आपके अलक़ाब अमीरुल मोमेनीन, हैदर, कर्रार, कुल्ले ईमान, सिद्दीक़,फ़ारूक़, अत्यादि हैं। आपके पिता हज़रतअबुतालिब पुत्र हज़रत अब्दुल मुत्तलिब व आपकी माता आदरनीय फ़तिमा पुत्री हज़रतअसद थीं। आप का जन्म रजब मास की 13वी तारीख को हिजरत से 23वर्ष पूर्व मक्का शहर के विश्व विख्यात व अतिपवित्र स्थान काबे […]

    •  नहजुल बलाग़ा का संक्षिप्त परिचय
      Rate this post

      नहजुल बलाग़ा का संक्षिप्त परिचय

      Rate this post नहजुल बलाग़ा का संक्षिप्त परिचयप्रिय पाठकों : आपने पवित्र किताब नहजुल बलाग़ा के बारे में सुना होगा और इस किताब को देखा भी होगा लेकिन नही मालूम कि इस किताब से आप कितने परिचित हैं और इसके बारे में कितना ज्ञान रखते हैं। नहजुल बलाग़ा अमीरूल मोमिनीन हज़रत अली (अ) के कुछ […]

    •  अमीरूल मोमिनीन हज़रत अली अलैहिस्सलाम का जन्मदिन
      Rate this post

      अमीरूल मोमिनीन हज़रत अली अलैहिस्सलाम का जन्मदिन

      Rate this post सलाम हो उस जन्म लेने वाले पर कि जिसके लिए ईश्वर ने अपने घर को जन्म स्थली बनाया और अपने सर्वश्रेष्ठ दूत पैग़म्बरे इस्लाम को उसका सरपरस्त व प्रशिक्षक बनाया ताकि उसका वुजूद मानवता के लिए आदर्श बन सके और उसके अस्तित्व से ईश्वरीय कृपा के द्वार बंदों के लिए खुल सकें। […]

    •  अमीरूल मोमिनीन हज़रत अली अ.ह
      Rate this post

      अमीरूल मोमिनीन हज़रत अली अ.ह

      Rate this post 13 रजब को अमीरूल मोमिनीन हज़रत अली अलैहिस्सलाम का शुभ जन्म हुआ, आप पैगम्बरे इस्लाम सल्लल्लाहो अलैहे व आलिही वसल्लम के चचाज़ाद भाई हैं और वह इसी नुबूव्वत की छाया में पले बढ़े और ख़ुद पैग़म्बर की देखरेख में आपका प्रशिक्षण हुआ। हज़रत अली अलैहिस्सलाम पहले आदमी थे जिन्होंने इस्लाम क़ुबूल किया […]

    •  हज़रत अली (अ.) की नसीहत
      हज़रत अली (अ.) की नसीहत
      1 (20%) 1 vote[s]

      हज़रत अली (अ.) की नसीहत

      हज़रत अली (अ.) की नसीहत1 (20%) 1 vote[s] हज़रत अली अलैहिस्सलाम: दुनिया के दिन, दो दिन हैं एक तुम्हारे हित में और दूसरा तुम्हारे अहित में, तो अगर वह तुम्हारे फ़ायदे में हो तो उदंडता न करो और अगर तुम्हारे नुकसान में हो तो क्षुब्धु व दु:खी मत हो। www.abna24.com

    •  नहजुल बलाग़ा में इमाम अली के विचार – 31
      Rate this post

      नहजुल बलाग़ा में इमाम अली के विचार – 31

      Rate this post जब राजनीति की बात आती है तो बहुत से लोगों के मन में झूठ, मक्कारी और पाखंड जैसे मामले व शब्द आते हैं। क्योंकि इंसान को पूरे इतिहास में इस कटु वास्तविकता का सामना रहा है। अधिकांश सरकारें एवं व्यवस्थाएं नैतिक और मानवीय सिद्धांतों के प्रति वचनबद्ध नहीं रही हैं। साथ ही […]

    more