islamic-sources

  • ALL
    E-Books
    Articles

    date

    1. date
    2. title
    •  ख़ुत्बा – 15
      Rate this post

      ख़ुत्बा – 15

      Rate this post [ हज़रत उसमान की अता कर्दा (द्वारा प्रदान की गई) जागींरे जब पलटा दीं तो फ़रमाया ] ख़ुदा की क़सम! अगर मुझे ऐसा माल भी कहीं नज़र आता तो औरतों के महर और कनीज़ों (दासियों) की ख़रीदारी पर सर्फ़ (व्यय) किया जा चुका होता तो उसे भी वापस पलटा लेता। चूंकी अदल […]

    more